मेरी और नेहा की पहली चुदाई

(Meri Aur Neha Ki Pahli Chudai)

प्रेषक : विजय

मेरा नाम विजय है। मैं अहमदाबाद में रहता हूँ, मैं एक सादा और सामान्य लड़का हूँ। मैं गोरा तो नहीं हूँ, लेकिन स्मार्ट लड़का हूँ, मेरी हाईट 5’9” फ़ुट है, और मेरा लन्ड 5.2” इन्च का है। मैं autofichi.ru में हर एक कहानी पढ़ता हूँ और मैं चाहता हूँ कि आपको मैं भी अपनी कहानी सुनाऊँ।

यह बात एक साल पुरानी, मेरी शादी की बात है, मेरी शादी नेहा से हुई और मैं नेहा को ब्याह कर अपने घर लाया।

शाम को रिवाजों के अनुसार वापिस नेहा के घर जाने की तैयारी में लग गया।

मैं बता दूँ कि मेरी शादी हमारे माता-पिता द्वारा तय की गई थी। मैंने नेहा को कभी भी नहीं देखा था, सिर्फ़ फोन पर ही हमारी बातें हुई थीं।

मैंने नेहा को अपने घर में आज ही पहली बार देखा था, जब वो नहाकर आ रही थी।

लेकिन घर पर सभी के होने के कारण उसे ना तो हाथ लगा पाया और ना ही कोई बात कर पाया।

लेकिन उसके बारे में क्या बोलूँ, वो कमाल लग रही थी। उसने लाल रंग का लिबास पहन रखा था। उसका रंग गोरा और उसका जिस्म जैसे अप्सरा हो !

मैं उसे चोरी-छुपे देख रहा था, वो भी मुझे चोरी-छुपे देख रही थी, उसकी आँखों में एक अजीब सी कशिश थी, जो वो जानती थी या मैं जानता था। वो भी मुझसे मिलने के लिए तरस रही थी।
आपको बता दूँ कि उसका रंग गोरा, कद 4’9″ थी और उसका बदन मक्खन जैसा दिख रहा था। उसकी चूचियाँ तो जैसे दो बिल्कुल गोल संतरे चिपके हों। हम दोनों के मिलने का इन्तजार बहुत लम्बा लग रहा था।

आखिर में वो समय आ ही गया, जब हम दोनों को उसकी माँ के घर जाना था।

मैंने अपनी कार निकाली और जाने को तैयार था कि तभी नेहा ने मुझे भीतर बुलाया और कहा- क्या आप मुझे बाईक पर ले जा सकते हो?

मैं तैयार हो गया और बाईक निकाली और वो डरते हुए मेरे पीछे बैठ गई और हम उसके घर आ गये।

यहाँ पर सभी हमारा इन्तजार कर रहे थे, नेहा भी अपनी सहेलियों से मिलने लगी।

रात हुई और मैं नेहा के साथ कमरे में सोने चला गया। मैंने देखा कि नेहा वहाँ नहीं है, लेकिन मुझे नींद आ गई, मैं सो गया।

कुछ देर बाद नेहा कमरे में आई होगी, मेरी आँख खुली तो मैंने देखा कि वो मुझे एकटक निहार रही थी, वो अभी भी उसी लाल रंग की पोशाक में थी, वो मुझे एकटक देखे जा रही थी।
रात के 1:30 बजे चुके थे। मैं भी उसे एकटक देख रहा था।

फ़िर हमने यहाँ-वहाँ की बातें कीं, मैंने उसका हाथ पकड़ा तो जाने अजीब सा सन्नाटा हो गया। वो भी मेरा साथ दे रही थी।

मैंने हिम्मत की और उसके होंठों को चूमने लगा।

वो गर्म हो गई और बोली- मैं आपके स्पर्श के लिए सुबह से बेकरार थी। आई लव यू।

तकरीबन 5 मिनट तक उसके होंठों को चूमने के बाद मैंने हिम्मत करके उसकी चूचियों को चूमने लगा।

वो अब मदहोश हो गई और कमरे में उसकी सिसकारी गूंजने लगी, वो पागल हो रही थी और मैं भी उसे पागल किये जा रहा था।

मौका देख कर मैंने उसका लिबास उतार दिया। अब मैंने देखा कि उसकी चूचियाँ मेरे हाथों में आने के लिये बेकरार थीं।

मैं उन्हें अपने हाथों से सहलाने लगा तो वो पागल ही हो गई। उसकी सिसकारियों से कमरा गूँज उठा।

अब उसने भी मेरा शर्ट उतारा और मुझे चूमने लगी। मुझे बहुत मजा आ रहा था। मैं उसकी चूचियों को सहलाए जा रहा था।

मैंने उसके पजामे में हाथ डाला, तो मुझे कुछ गीला-गीला महसूस हुआ। मैं वो पता करने के लिए उसके पजामे का नाड़ा खोला।

यह कहानी आप autofichi.ru में पढ़ रहें हैं।

वो बोली- मेरे जानू, ये सब अब आप ही का तो है।
यह कह कर वो मुझ से दूर सी हो गई।

मैंने उसे पकड़ा तो वो बोली- मुझे डर लग रहा है।

मैंने उसे कुछ भी ना कहते हुए उसका नाड़ा खींच लिया। अब उसका पजामा ढीला हो गया था। मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया और उसके पजामे को खोलने लगा।

वो शर्म के मारे कुछ भी नहीं बोल रही थी, वो मेरे सामने सिर्फ काली ब्रा और गुलाबी पैन्टी में थी।

मैंने उसे उठाया और बाँहों में भर लिया और उसके कानों में कहा- क्यों मैडम, अपनी इज्जत नहीं बचाओगी?

वो शरमा गई और मुझे चूमने लगी। मैं अब उसके साथ बिस्तर पर लेट गया, वो मेरी पैंट उतारने लगी।

कुछ देर में हम दोनों नंगे हो गये अब मैं अपने लण्ड को उसकी चूत पर रख कर रगड़ रहा था।

उसकी चूत पानी-पानी हो गई थी। मैंने कोशिश की और लन्ड उसकी चूत मे धकेल दिया।

वो चिल्लाई और फ़िर उसकी चूत में से खून निकलने लगा, थोड़ी देर के लिए तो हम दोनों डर गये और रुक गये।

लेकिन नेहा की चूत तो मेरे लन्ड के लिए प्यासी मरी जा रही थी।

वो बोली- जानू, एक बार और कोशिश करें?

मैंने हिम्मत की और उसकी चूत में लन्ड घुसा दिया, पर इस बार तो बात ही कुछ और थी।

नेहा को दर्द तो हो रहा था पर तब भी मजा आ रहा था।

हमने पूरा मजा लिया।

इसके आगे की बात तो आप सब जानते ही हैं कि चुदाई कैसे होती है।

दोस्तो, आपको यह मेरी सच्ची कहानी कैसी लगी, बताएँ !



"hot sex story""सेक्सी स्टोरी""hindi srx kahani""new sex story""hindi sexstoris""सेक्सी स्टोरीज""सेक्सि कहानी""nonveg sex story""kamukta com sex story"phuddi"new sex stories in hindi""www sex store hindi com""sex story girl""kamuk stories""maa ki chudai kahani""sexy storis in hindi""desi sex hot""first time sex story in hindi""hot sex stories""hindi sax storey"kamukta."sexy kahania hindi""papa se chudi""induan sex stories"kamukta."hot sex stories""bahan ki chudai kahani""first sex story""choti bahan ko choda""office sex stories""sixy kahani""mosi ki chudai""hot hindi sex story""www com sex story""gangbang sex stories""www hot sex""aunty ki chut story""kamukta hindi me""hindi sex stoy""sexy bhabhi sex""sexy kahania""sex storiesin hindi""indian sex story in hindi""www kamvasna com""meri pehli chudai""हिंदी सेक्स स्टोरीज""jija sali ki sex story""bathroom sex stories"chudaaichudaikahaniya"hot store hinde""sex story in hindi real""sexy stories in hindi com""stories hot""indian sex stories.com""chut ki kahani photo""sexy stoey in hindi""sexy stories in hindi""wife ki chudai""bhabi ki chudai""hondi sexy story""सेक्सी लव स्टोरी""sexy story hindi in""indian maid sex story""hot maal""school sex stories""india sex stories""bhabhi ki chudai story""mastram ki sex kahaniya""indian sex stori""virgin chut""sexy storis in hindi""hinde sex""chut kahani""हॉट हिंदी कहानी""biwi ki chudai""sexy story in hundi""chudai ki bhook""new hindi sex kahani""sexe stori""chodan .com""sex shayari""teacher ki chudai""हिंदी सेक्स""sexy story in hindi""mummy ki chudai dekhi""kamukta new story""sexstories hindi""sex story photo ke sath""hot store hinde""sex कहानियाँ"