माँ चुद गई फार्म हाउस पर

(Ma Chud Gai Farmhouse Ppar)

इस सिते के कहनि पधने वले सभि लोगो का मेरे इस कहनि मे सवगत है। मैने इस सिते के लगभग सरे कहनि को पधा है। मुझे सरि कहनि बेहद हि अछे लगे। उनको पधने के बाद मैं अपके लिये एक ऐसि कहनि लया हु जिसे मैने अपने अखो के सामने होते हुये देखा था।इस्से पहले कि मैं अपने कहनि को सुरु करु सबसे पहले मैं उन दोनो लोगो का परिचय अपसे करा दु। इस कहनि मे दो लोग कोयि और नहि एक मेरि माऔर दुसरा एक अदमि जिसकि उमर साथ साल कि है।

ये कहनि वैसे तो कुछ पुरनि है लेकिन मेरे समने जब भि वो दिन याद अता है तो मुझे ऐसा लगता है कि ये कल कि हि बात है। मेरि मामुझे लेके देलहि अयि थि। हमलोग अपना कम खतम करने के बाद साम को छतरपुर मनदिर घुमने चले गये। वहा हमलोगो को घुमते घुमते कफ़ि देर हो गयि। जब हमलोग बुस सतोप पर पहुचे उस समय सत बज़ रहा था। हमलोग कुछ देर तक वहि इनतज़र कर रहे थे कि एक सर अके रुकि और उसमेसे एक अदमि जिसकि उमर साथ साल कि थि ने विनदोव खोलके मुझे बुलया और पुछा कि कहा जना है तो हमने बतया तो उसने बोला कि उसे भि उधर हि जना है मैने मासे पुछा तो वो उसके गदि मे चलने के लिये तैयर हो गयि। हमलोग उसके गदि मे बैथ गये।

मैं पिछे वले सित पर बैथ गया और मा अगे वले सित पर बैथ गयि। मैने रसते मे जब देखा कि चनदरा मा को एक अजिब नज़र से घुर रहा था। मैने तभि समझ गया कि आज कुछ गदबद होने वला है। रसते मे हमलोगो का पलन चनगे हो गया कयोकि उसने बतया कि अब इस समय बुस नहि मिल सकति इसलिये उसने अपने बनगले पर चलने के लिये बोला। देखने मे वो बदा हि भोला लग रहा था सो हमलोगो के पास और कोइ उपय नहि था। माउसके बनगले पर चलने के लिये तैयर हो गयि। हमलोग उसके बनगले पर पहुचे तो मैन गते पर तला लगा हुअ था। उसने गते खोल के गदि को गैरेज़ मे लगा दिया। मैन गते बनद कर के वो हमलोग को लेके अपने बनगले मे गया तो मैं समझ गया कि आज कुछ गदबद होने वला है। मैने देखा कि कुछ देर के बाद जब मा ने अपने कपदे को चनगे कर के निघती पहन लिया तो वो लुनगि पहन लिया। अब मैं एक कमरे मे बेद पर जके सो गया। मादुसरे कमरे मे सोने चलि गयि।लगभग एक घनते के बाद मैने अपने कमरे के दरवजे को बनद होने कि अवज सुनि तो मैं जग गया।

मैने देखा कि वो मा के कमरे के तरफ़ चला गया। मैं समझ गया कि अब वो मा के साथ कुछ खेल खेलने वला है। मैं अब एक ऐसे जगह पर जके बैथ गया जहा से मैं माके कमरे के सरे चिजे देख सकता था। मैने देखा कि वो माके कमरे मे जके उनके कमरे के दरवजे को अनदर से बनद कर दिया। बनद करने के बाद वो माके पास गया और अम्मा को कुछ देर तक देखता रहा। उस समय सो रहि थि। मैने देखा कि वो माके दोनो पैरो पर अपना हथ रखने के साथ माके निघती को उपर उथने लगा तो माउथ गयि और बैथ गयि।माअपने पैर को खिचने कि कोसिस करते हुये बोलि आप यहा कया कर रहे है। तो वो हसते हुये बोला कि वहि जो एक अदमि को एक औरत के साथ करना चहिये और कया। माबोलि नहि ये गलत है। तो वो बोला कया गलत है और कया सहि ये मुझे ना बतओ अब बस चुपचप मैं जैसा कहता हु वैसा करति जओ समझि। उसके मुह से ऐसा सुनके मैं तो दर गया। माअपने पैरो को खिचने लगि तो वो माके दोनो पैरो को खिचके माको बेद पर पतक दिया अब अम्मा अपने अपको उसके चनगुल से छोदने के लिये हर कोसिस करने लगि लेकिन उनका हर कोसिस नकम होने लगा। वो माके निघती को थोदा उपर करने के बाद पैरो पर बैथ गया और माके निघती को उपर उथने लगा। उधर माउसका बिरोध करने लगि। इस तरह से उनके बिरोध करने से उसके उपर कोयि असर नहि पद रहा था। मैने देखा कि उसने माको पेत के बल लिता दिया और माके निघती को निकल के अलग किया। अब माके गनद को देख के उसका लुनद तो जैसे फ़ुनकर मरने लगा। मैने देखा कि वो मा के जनघ पर बैथ गया था और मा के गनद को फ़ैला के अपने मुह से थोदा सा थुक निकल के मा के गनद मे लगा दिया। अब उसने अपने लुनद को लुनगि से निकला जो कि सत इनच लमबा था। मा के गनद के छेद पर अपने लुनद को रख के एक जोर से झतका मरा तो मा जोर से चिख पदि लेकिन उसका लुनद अनदर नहि गया। उसने फ़िर से एक बर दुबरा कोसिस किया लेकिन इस बार भि वहि हल हुअ।

अब वो उथ के कमरे के दुसरे कोने पर सथित अलमिरे के पास गया तो मा उथ के भगने के लिये जैसे हि दरवजे के पास गै तो दरवजे कि चितकिनि इतनि उपर थि कि मा के हथ वहा तक नहि पहुच पा रहे थे। वो मा के पास दिबे को लेके गया और उसमेसे थोदा सा तेल निकल के मा के गनद मे लगा दिया इसके बाद उसने अपने लुनद पर तेल लगने के बाद दिबे को पस्स के खिदकि पर रखने के बाद अपने दनदे को मा के गनद से सतने के बाद एक जोर से झतका मरा तो मा जोर से चिलने के साथ छतपतने लगि तो मैं समझ गया कि मा मे उसका दनदा चला गया था। अब वो अपने कमर को हिलने लगा। इसके साथ हि मा के मुह से अजिब चिख निकल जति थि। कुछ देर के बाद जब मैने देखा कि उसने जोर जोर से झतके लगने लगा तो मा छतपतते हुये दनदे को निकलने के लिये बोलने लगि तो वो बोला कि बस अब और थोदा सा हि रह गया है रनि।इतनि सुनदर चिज़ को भि कोइ छोदता है कया। ऐसा कहते हुये उसने एक जोर से झतका मरा तो मैने देखा कि मा दरद के मारे बिलकुल हि नचने लगि तो मैने देखा कि मा के जनघो से खुन निचे गिरने लगा तो मैं समझ गया कि मा कि गनद फ़त गयि थि। अब उसने बोला कि रनि अब तुम मेरे पुरे दनदे को अनदर ले चुकि हो अब और दो मिनुत रुक जओ। और मा के गनद मे अपने दनदे को जोर जोर से झतके के साथ अनदर बहर कर रहा था। उसके ऐसे करने के साथ मा के मुह से चिख निकल रहि थि। मैं वहि खदा हो के सब कुछ देख रहा था।

कुछ देर के बाद जब मा के गनद मे उसका पुरा लुनद चला गया। अब वो मा के गनद मे अपने पुरे दनदे को अनदर बहर कर रहा था। कुछ देर के बाद उसका बिज़ मा के गनद मे गिर गया। उसके बाद उसने अपने लुनद को मा के गनद से निकला और मा के हनथ को पकद के मा को बाथ रूम मे लेके गया। वहा जने के बद उसने अपने लुनद को नल को चला के धोया। इसके बाद मा के चुद को सहलते हुये मा से पेसब करने के लिये बोला। कुछ देर तक उसके ऐसे हि चुद के सहलने से मा को पेसब लग गया और जैसे हि मा पेसब करने के लिये बैथि तो उसने मा के मुह मे अपने लुनद हो दल दिया और मा के बाल को पकद के अपने कमर को हिलने लगा। मा के मुह मे उसका लुनद चला गया था। अब मा उसके लुनद को लेके चतने लगि। कुछ देर वैसे हि करने के बाद मैने देखा कि जब उसका लुनद फ़िर से तैयर हो गया तो उसने मा को उथया और मा के चुद पर एक मागा से पनि मारा और मा को तनग के लेके वहा से फ़िर से उसि रूम मे लेके चला गया। वहा ले जके मा को बेद पर लेता दिया और मा के जनघ पर बैथ गया। अब मा के दोनो हथो को एक रशि से बेद के सहरे बानध दिया। इसके बाद अब मा के दोनो पैरो को मोद दिया और जनघो को फ़ैलते हुये अपने मुह को मा के चुद के पास ले गया और मा के चुद को चतने लगा। कुछ देर तक वसे हि मा के चुद को चत्ता रहा। कुछ देर के बाद जब मा के चुद से पनि निकल पदा तो वो मा के चुद को थिक वैसे हि चतने लगा जैसे कोइ सनध किसि गैया कि चुद को चत्ता है। इसके बाद वो उथ के बैथ गया और मा के चुद पर अपने लुन को सता के एक जोर से झतका के साथ अपने कमर को हिलया तो मा के मुह से जोर से चिख को निकलि तो मैं समझ गया कि मा के चुद मे उसका लुनद चला गया है। मा आआअह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआआआआआह्हह्हह्हह्हह्हह्हह ऊऊऊऊऊऊह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआऔऊऊऊऊऊऊऊ ईईईईईइस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस कि अवज निकल रहि थि और वो अपने कमर को धिरे धिरे हिलने लगा। मैने देखा कि उसके लुनद का तोप हि मा के चुद मे गया था।

मा के ऐसे आहे को भरते सुन के वो बोला अभि तो सिरफ़ तोप हि गया है। अभि तो पुरा बहर हि है। और अभि से इस तरह से कयो चिख रहि हो रनि। आज मैं तुमहे रात भर चोदुनगा। तुमहरे चुद से और गनद से आज रत के किरये को खुब वसुल करुनगा और ऐसा कहते हुये एक जोर से झतके के सथ जब अपने कमेर को हिलया तो मा आआअह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआआआआआह्हह्हह्हह्हह्हह्हह ऊऊऊऊऊऊह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआऔऊऊऊऊऊऊऊ ईईईईईइस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस आआअह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआआआआआह्हह्हह्हह्हह्हह्हह ऊऊऊऊऊऊह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआऔऊऊऊऊऊऊऊ ईईईईईइस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस कि अवज के साथ अपने सर को उथा उथा के उसके हर एक झतके के साथ सिसकने लगि तो उसका जोस और बध गया और वो मा के बरा को खोलने का परयश किया और जब मा का बरा नहि खुला तो उसने मा के बरा को फ़द दिया। और मा के दोनो चुचिओ को जो कि बिलकुल हि तने हुये थे को चुसने के लिये मा के उपर लेत गया और मा के बये चुचि को अपने मुह मे ले लिया और मा के दुध को पिने के सथ हि अपने कमर को हिलने लगा। और मा उसके हर एक झतके के साथ जोर जोर से आआअह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआआआआआह्हह्हह्हह्हह्हह्हह ऊऊऊऊऊऊह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआऔऊऊऊऊऊऊऊ ईईईईईइस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस आआअह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआआआआआह्हह्हह्हह्हह्हह्हह ऊऊऊऊऊऊह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआऔऊऊऊऊऊऊऊ ईईईईईइस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस आआअह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआआआआआह्हह्हह्हह्हह्हह्हह ऊऊऊऊऊऊह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआऔऊऊऊऊऊऊऊ ईईईईईइस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस आआअह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआआआआआह्हह्हह्हह्हह्हह्हह ऊऊऊऊऊऊह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआऔऊऊऊऊऊऊऊ ईईईईईइस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस कि अवज के साथ उसके हर एक झतके के साथ चिला रहि थि। कुछ देर के बाद जब मैने देखा कि मा के चुद के उसके लुनद का अधा हिसा चला गया तो मा कुछ देर तक मसति के साथ आआअह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआआआआआह्हह्हह्हह्हह्हह्हह ऊऊऊऊऊऊह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआऔऊऊऊऊऊऊऊ ईईईईईइस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस आआअह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआआआआआह्हह्हह्हह्हह्हह्हह ऊऊऊऊऊऊह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआऔऊऊऊऊऊऊऊ ईईईईईइस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस्सस कि अवज के साथ मसति मे अहे निकल ने लगि तो उसने एक जोर का झतका मरा तो मा पुरि तरह से छतपतने लगि। मैने देखा कि मा के चुद मे उसका लगभग पुरा लुनद चला गया था। अब वो मा के होथो को चुसने लगा तो मा ने दोनो पैरो को पुरा फ़ैला दिया और मा के दोनो पैर पुरि तरह से तिघत हो गये थे। अब मा को उसके लुनद को बरदसत करना मुसकिल हो रहा था।

अब वो मा के चुद मे अपने लुनद को अनदर बहर कर रहा था और मा दरद के मरे छतपता रहि थि। कुछ देर के बाद उसने मा के चुद मे अपने लुनद को पुरि तरह से दलने के लिये एक और झतका मरा तो मा ने अपने होथो को उसके होथो से चुदने के साथ हि दरद के मारे तदप उथि। मैने देखा कि मा के चुद से खुन निकल पदि। अब वो बोला अब तुमहरि कुवरा पन खतम हो गया रनि अब तुम पुरि तरह से मेरि रखैल हो चुकि हो। अब माजोर जोर से सिसकि मर रहि थि। लेकिन इसका उसके उपर कोइ परभव नहि पद रहा था। वो अमा के चुद मे अपने लुनद को अनदर बहर अनदर बहर कर रहा था। माकि हलत देख के ऐसा लगता था कि आज सहि मे उनकि कुवरपन खतम हुअ था। माको इस तरह से चिलते हुये देख के वो माके होतो को चुसना सुरु कर दिया। उसने अमा के होथो को जब चुसना सुरु किया तो और जोर जोर से अपने कमर को हिलने लगा। अब माकुछ देर तक छतपतने के बाद धिरे धिरे सनत पदने लगि तो मैं समझ गया कि अब माको भि मजा अने लगा था। कुछ देर के बाद वो भि सनत पद गया तो मैं समझ गया कि माके चुद मे उसका बिज गिर गया था। अब कुछ देर तक माके उपर वैसे हि लेते रहने के बाद जब उसने अपने लुनद को निकलते हुये अमा के उपर से हता तो अमा उथ के जने लगि। माके उथ के जते देख के उसने माके हथ को पकद के बोला कहा जा रहि हो रनि। मेरे साथ हि सो जओ। ऐसा कहते हुये उसने माको अपने बहो मे भर लिया। और वैसे हि दोनो सो गये। मैं भि वहि बेद पर सो गया।

यह कहानी आप autofichi.ru में पढ़ रहें हैं।

भोर मे जब मेरि निनद खुलि तो मैने देक्कहा कि वो दोनो वैसे हि सोये हुये थे। अचनक माकि निनद खुलि तो वो अपने अपको उसके बहो मे ननगि अवसथा मे देखा तो समझ गयि। वो भि जग गया था। अब उसने माके गल पर एक चुमा लिया। अब वो माके गनद को अपने तरफ़ करने कहा तो माने पहले तो वैसा करने से मना कर दिया लेकिन जब वो माके पिथ को अपने तरफ़ करने लगा तो माउसके अगे कमजोर पद गयि और उनहोने बिना कुछ कहे अपने पिथ को उसके तरफ़ कर दिया। अब वो उथ के माके गनद मे अपने लुनद को घुसने के लिये सबसे पहले माके गनद पर अपने लुनद को रगदा तो मैने देका कि माके गनद पर उसके लुनद का पनि छुत गया। अब उसने माके गनद को गिला कर दिया। अब उसने मासे गद फ़ैलने के लिये कहा तो माने अपने गानद को अपने हथो से फ़ैला दिया। उसने अपने लुनद के तोप को माके गनद मे दलने के बाद उसने माके कमर को पकद के जोर जोर से तिन झतके मरा तो मापुरि तरह से चतपता उथि। और आआआआआआह्हह्हह्हह्हह्हह आआआआआऔऊऊऊऊऊऊऊ आआआआआअह्हह्हह्हह्हह्हह्हह कि अवज के साथ चिख पदि। अब माने अपने कमर को खिचने लगि तो वो माको पतक के माके उपर चध गया। और माके गनद मे अपने लुनद से पुमपिनग करने लगा। उधर माजोर जोर से सिसकि मार रहि थि। कुछ देर के बाद मासनत पद गयि। वो माके उपर चध के माको बिस मिनुत तक पेलता रहा तब वो सानत हो गया। कुछ देर वैसे हि पदे रहने के बाद वो माके उपर से हत गया।

अब माको सिधा करने के बाद माके पैर को हलका सा फ़ैलया तो माने बोला कि पेशब लगि है। वो माको लेके बाथरूम मे गया वहा से जब वपस अये तो मैने देखा कि माने अब उसके लुनद को अपने मुथि मे पकद रखा था। अब माबेद पर लेत गयि। अब उसने एक दिबे को लेके अये और माके कमर के पास रखा । अब माके चुद मे तेल लगने लगे तो माने भि अपने हथो मे तेल ले के उसके लुनद मे तेल लगने लगि। तेल लगने के बाद वो माके जनघ पर बैथ गये अब माने अपने चुद को फ़ैला दिया। उसने अपने लुनद को माके चुद पर सता के जोर से झतका मरा तो माके मुह से एक अजि सि चिख निकलि मैं माके चिख को सुन के समझ गया कि माके चुद मे उसका लुनद चला गया अब उसने माके चुचिओ मे तेल लगने के बाद चुचिओ को मसलने के साथ हि माके चुद मे अपने लुनद को अनदर और अनदर ले जने के लिये जोर जोर से झतके मरने लगा तो अमा जोर जोर से आआआआआआह्हह्हह्हह्हह्हह आआआआआऔऊऊऊऊऊऊऊ आआआआआअह्हह्हह्हह्हह्हह्हह औऊऊऊह्हह्हह्हह्हहाआ आआआआअह्हह्हह्हह्हह्हह्ह नाआआआऐईईईईईईईईईइ आऊऊऊऊऊऊऊऊ कि अवज निकलने लगि तो वो बोला कया हुअ दरद कर रहा है कया। तो अमा बोलि ह्हह्हाआआआआ आआआआआअह्हह्हह्हह्हह्ह न्नन्निक्कक्कक्कक्काआआआआअल दूऊओआआआआआ। माके ऐसे करने पर उसका जोस और बध गया। अब माको और जोर जोर से झतके मरने लगा। और अमा आआऔह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊह्हह्हह्हह्हह्हह्ह आआआआअह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह थूऊऊऊओदाआआआआ धीईईईईईरीईईईईईई आआआआआह्हह्हह्हह्हह्हह्हह रूऊऊऊउक्कक्कक्कक्कक्कक्ककीईयाआआआआ अमा के ऐसे करते देखके उसकि मरदनगि और जोर जोर से उफ़न मरने लगि तो वो अमा के दोनो चुचिओ को मसलने लगा। और अमा नाआआआअहीईईईईईईइ ऊऊऊऊऊफ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़ ऊऊऊऊऊह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्ह कि अवज निकले जा रहि थि।

अब उसने अमा के बये चुचि को अपने मुह मे लेके पिने लगा। और अमा के चुद मे अपने लुनद को अनदर बहर करने लगा तो अमा कि तो जैसे होस हि नहि था। कुछ देर के बाद मने देखा कि अमा भि अब मसति मे अने लगि थि। अब वो भि अपने चुदै का मजा लेने लगि थि। इस तरह से अमा के दोनो चुचिओ के दुध को पिने के बाद उनसे अमा के होथो को चुसने लगा तो अमा भि उसका साथ देने लगि। कुछ देर तक ऐसा करने के बाद जब दोनो सनत पद गये तो मैं समझ गया कि माने अपने करज को उतरवा लिया था। अब वो दोनो लोग कुछ देर तक वैसे हि पदे रहे। इसके बाद वो लुनद को अमा के चुद से निकल के माके उपर से हता और माके चुद को देखते हुये बोला कया मसत चुद पया है तुमने। अब वो अपने कपदे को पहन लिया। कुछ देर के बाद अमा जब उथ के खदा हुयि तो उनके चुद को देख के ऐसा लगता था कि अमा को अभि हि बचा होने वला हो।

माभि उथ के अपने कपदे को पहन लिया। माको चला नहि जा रहा था। अमा कुछ देर तक बेद पर बैथने के बाद जब उसने कमरे के दरवजे को खोला तो मैं जके बेद पर लेत गया। उसने मेरे कमरे के दरवजे को भि खोल दिया। मैं कुछ देर के बाद जब बहर निकला तो देखा कि अमा अपने सदि को पहन के तैयर हो चुकि थि। उनको देखके ऐसा लगता हि नहि था कि उस अदमि ने उनके साथ रात भर बलतकर किया था। मैं भि फ़रेस्स होने के बाद चलने के लिये तैयर हो गया। वो भि हमदोनो को छोदने के लिये तैयर हो गया और कुछ देर के बाद हमलोग वहा से निकल गये। उसि दिन हमलोगो को वपस घर जना था। हमलोग सततिओन अये कुछ देर के बाद हि त्रैन कि तिमे होने वलि थि इसलिये हमलोगो को सततिओन पर छोद के वो वपस चला गया। हमलोग त्रैन से अपने रसते घर के लिये चल पदे।

ये है कहनि मेरे माकि बलतकर कि यारो।



"chodai ki kahani com""sex with uncle story in hindi""chut kahani""hindi font sex story""wife sex stories""sax storis""beeg story""office sex stories""maa bete ki chudai""bhabhi chudai""bhai behen sex""real sex story""mastram ki sexy kahaniya""read sex story""hiñdi sex story""sex storiesin hindi""boor ki chudai""new hindi sexy storys""www hot hindi kahani""first time sex stories""कामुकता फिल्म""adult stories hindi""forced sex story""sax storis""sex srories""choot ka ras""devar bhabhi ki sexy kahani hindi mai""kamvasna hindi sex story""chodan cim"hindisexstories"gf ko choda""gand chudai ki kahani""husband wife sex story""hindi chudai kahaniyan""baap beti ki sexy kahani""indian sex stor""सेकसी कहनी"indiansexstoroes"beti sex story""हिंदी सेक्सी स्टोरीज""free hindi sex story""sexi hot story""train sex stories"kaamukta"group chudai story""sexstoryin hindi""sasur bahu chudai""sex kahani""indian hot sex stories""devar bhabhi hindi sex story""sagi behan ko choda""चुदाई की कहानी""oriya sex story""chut me lund""sex storiesin hindi""gand chut ki kahani""chachi ko jamkar choda""the real sex story in hindi"sexstory"chudayi ki kahani""hindi sex story in hindi""www hindi sexi story com""hot sex stories""ghar me chudai""suhagrat ki chudai ki kahani""gay sex story in hindi"www.kamukata.com"kamuk kahaniya""new sex story""behen ko choda""mami k sath sex""meena sex stories""hindisex storie""xxx kahani new""sex chat story""bhabhi ko train me choda""stories sex""chudai ki kahani in hindi""sex kahani bhai bahan""sex hot stories""sax satori hindi""bahan ki chut""sexi story in hindi""mast boobs""indian aunty sex stories""sexi khani""indian.sex stories""www hindi sex history""real sax story""biwi aur sali ki chudai""hindi sexy khanya""kamukta beti""sex with chachi""kamukta www""adult story in hindi""sex kahani image"kamukt"sex chat whatsapp""chut chatna"