हॉट सेक्स रीता आंटी के साथ

Hot sex rita aunty ke sath

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम नमन है और मेरी उम्र 23 साल है. में एकदम सीधा साधा लड़का हूँ और में बहुत समय से कहानियों को पढ़ता आ रहा हूँ. मैंने अब तक बहुत सारी सेक्सी कहानियाँ पढ़ी है और मुझे ऐसा करना बहुत अच्छा लगता है और अब बोर ना करते हुए सीधे में अपनी कहानी पर आता हूँ.

दोस्तों यह बात कुछ साल पहले की है जब में अपने कुछ दोस्तों के साथ कोलकाता घूमने गया था और हम सब साथ में घूमने निकलते थे हमारा वो पहला दिन था और हम सभी बहुत मस्ती कर रहे थे. हमने घूमने फिरने के पूरे पूरे मज़े लिए और हमें बहुत अच्छा लगा. मेरा एक दोस्त था जिसका नाम साहिल था, हम बहुत मस्ती और इधर उधर की बातें करते थे, लेकिन लड़कियों को कुछ भी कहना, उन्हें छेड़ना, हम यह सब कभी नहीं करते थे क्योंकि यह सब मुझे बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता था. दोस्तों जैसे कि मैंने पहले ही आपसे कहा है कि में बहुत सीधा साधा लड़का हूँ, लेकिन पहले दिन शाम को मैंने साहिल से कहा कि साहिल क्या तू मेरे साथ घूमने चलेगा?

फिर उसने मुझसे साफ मना कर दिया, क्योंकि उसकी तबियत उस समय ठीक नहीं थी इसलिए मैंने उससे कहा कि ठीक है में अकेला ही चला जाता हूँ और फिर में कुछ देर बाद एक मार्केट से गुज़र रहा था कि तभी मुझे वहां पर एक गोरी चिट्टी सी आंटी जिसे हम परी कहे तो बहुत अच्छा होगा क्योंकि उनकी नयी नयी शादी हुई थी और उनके हाथों में उस समय लाल रंग की चूड़ियाँ थी और में आपको क्या बताऊँ दोस्तों वो एकदम ग़ज़ब लग रही थी.

वो लाल, काली जालीदार साड़ी में एकदम सेक्सी माल लग रही थी, जो भी उसे एक बार देखता तो वो उससे पहली बार में ही प्यार कर बैठता. उनका फिगर एकदम मस्त आकार का, बिल्कुल गोल बड़े आकार के बूब्स, गोरा रंग, सुंदर गोल चेहरा, उनका फिगर 36-32-34 के करीब होगा और किस्मत से वो उस समय अकेले ही घूम रही थी और में भी एकदम अकेला था.

फिर में उनके पास से जब गुज़रा तो मेरी उनसे नजरे मिली और में बहुत खुश था, मेरे मन में लड्डू फूटने लगे जिसकी वहज से मुझसे अब और कंट्रोल नहीं हुआ. और मेरी तरफ से एक छोटी सी स्माईल निकल गई. मुझे लगा कि अब में पिटने वाला हूँ, लेकिन में क्या बताऊँ यारो एकदम चमत्कार ही हो गया, उन्होंने भी मेरी तरफ एक बार स्माइल किया और में बहुत खुश हो गया.

फिर हमारे बीच इशारों में ही कुछ ऐसा होने लगा जिससे कि में हिम्मत करके उनके और पास जाने लगा और कहा कि हाए तो उन्होंने एक प्यारी सी स्माइल देते हुए हैल्लो कहा और तब हिम्मत करके मैंने उनसे कहा कि आप बहुत सुंदर हो तो उन्होंने मुझसे धन्यवाद बोला. फिर मैंने उनसे पूछा कि क्या आप अभी फ्री हो, अगर आप बुरा ना मानो तो हम घूमने चले.

फिर उन्होंने कुछ देर सोचकर तुरंत मेरी बात मान ली और मेरे साथ निकल पड़ी और अब हम दोनों एक दूसरे से बहुत अच्छी तरह से हंस हसंकर, खुलकर बातें करने लगे, जैसे कि हम दोनों बहुत पहले से एक दूसरे को जानते हो. तो बातों ही बातों में मैंने उनसे पूछा कि आपके पति कहाँ है? तो वो कहने लगी कि वो कुछ जरूरी काम से दिल्ली गये है और वो अब मुझसे बहुत खुलकर बातें कर रही थी और जब हम करीब हुए तो उन्होंने मुझसे पूछा कि क्या तुम कल फ्री हो? तो मैंने तुरंत उनसे कह दिया कि हाँ में फ्री हूँ, तब उन्होंने मुझसे कल सुबह अपने घर पर आने को कहा और फिर वो चली गई और दोस्तों में उनको जाते हुए पीछे से उनकी गांड को घूरकर देख रहा था और अपने रूम पर पहुंचकर मैंने उनके बारे में बहुत कुछ सोचा. पूरे दिन मेरे सामने बस वो घूमती रही. दोस्तों सच पूछो तो वो मेरे मन को भा गई थी.

फिर दूसरे दिन में तैयार होकर उनके बताए हुए पते और ठीक समय पर उनके घर के लिए निकल पड़ा और उनके घर पहुँच गया और मैंने घंटी को बजाया तो उन्होंने दरवाज़ा खोला और मैंने एक प्यारा सा गुलाब का फूल उनके हाथ में दे दिया और उनको एक टाइट सा हग किया तो में क्या बताऊँ वो क्या मस्त समां था. फिर उन्होंने मुझे अंदर बुलाया.

दोस्तों उन्होंने उस समय एक गहरे गले का ब्लाउज और नीले रंग की साड़ी पहनी हुई थी जिसमे से उनकी गोरी छाती मुझे अपनी तरफ आकर्षित कर रही थी और वो एकदम सेक्सी लग रही थी. फिर वो हम दोनों के लिए कॉफी बनाकर ले आई और हम दोनों साथ में बैठकर पीने लगे. फिर धीरे धीरे मैंने उनसे इधर उधर की बातें छेड़ी और उनसे पूछा कि में आपको कैसा दिखता हूँ?

उन्होंने कहा कि तुम बहुत अच्छे सीधे साधे हो और तुम कल मुझे तुम बहुत अच्छे लगे इसलिए मैंने तुम्हे देखकर स्माइल किया. दोस्तों सच पूछो तो में खुद उनके मुहं से यह बात सुनना चाहता था और उनके मुहं से यह बात सुनकर मेरे मन में एक बार फिर से लड्डू फूटने लगे थे. में बहुत खुश था कि तभी मैंने मौके का फायदा उठाते हुए उनसे कहा कि आप भी बहुत सुंदर हो और आप भी मुझे बहुत अच्छी लगी.

अब उन्होंने मुझसे पूछा कि क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है? तो मैंने कहा कि जी अब तक कोई भी नहीं है, मुझे कोई पसंद नहीं करता क्योंकि आजकल सब लोगों को सुंदर और बुरे काम करने वाले ही पसंद आते है और मुझ जैसा किसी को पसंद नहीं आता है. फिर उन्होंने कहा कि नहीं यार तुम बहुत अच्छे हो और बस ऐसे ही बातें करते करते मैंने उनसे पूछ लिया कि क्या में आपको अपनी तरफ से प्यार का आग्रह कर सकता हूँ? तो वो मेरी यह बात सुनकर थोड़ा सा हिचकिचाई, लेकिन कुछ देर सोचने के बाद वो मान गई और मैंने उनको अपनी तरफ से “में आपको बहुत प्यार करता हूँ और आप मुझे बहुत अच्छी लगती हो” कहा.

फिर उन्होंने बहुत प्यारी से स्माइल देकर कहा कि बेबी हाँ में भी तुमसे उतना ही प्यार करती हूँ और फिर वो समय अचानक से ऐसा हो गया कि हम दोनों ने एक दूसरे को हग किया और हम दोनों एक दूसरे के बहुत पास होने लगे. मैंने उनको गाल पर किस किया और तभी उसने मुझे मेरे होंठो पर किस किया. दोस्तों मुझे बहुत मज़ा आया, वो बहुत सेक्सी थी और कोई भी उन्हे देखकर पागल हो ज़ाएगा. उन्होंने कुछ देर बाद मेरे होंठो को अपने होंठो से एकदम बंद कर दिया था और उसके बाद मैंने उनसे कहा कि यह सब पहले मेरे साथ कभी नहीं हुआ था. फिर रीता आंटी ने कहा कि तो इसे हम आज पहला बना देते है और अब में सब कुछ भूल गया था.

यह कहानी आप autofichi.ru में पढ़ रहें हैं।

अब रीता आंटी ने मुझसे कहा कि अंदर चलो में एक मिनट में आ रही हूँ और में अंदर गया तो एकदम ठंडा रूम और में मेरे साथ आगे जो सब कुछ होने वाला था उसको सोचकर बहुत व्याकुल हो रहा था. फिर कुछ देर बाद रीता आंटी अंदर आई और मैंने उनसे कहा कि आंटी आप वाकई में बहुत ही सुंदर हो और उन्हे मैंने उनकी गर्दन पर एक किस किया तो वो थोड़ी सी गरम होने लगी और तभी मैंने उनका पल्लू को नीचे सरका दिया, लेकिन उन्होंने कुछ भी नहीं कहा और उन्हे में गर्दन पर और फिर लिप पर किस करने लगा और वो भी मेरा पूरा पूरा साथ दे रही थी.

फिर मैंने कहा कि आप बहुत अच्छी हो रीता आंटी और उन्हे मैंने बेड पर गिरा दिया और पूरे गरम गरम बदन पर किस किया, वो एकदम रुई जैसी थी और उनकी मुलायम त्वचा मुझे और पागल बना रही थी. उनके गहरे गले के उस ब्लाउज में से उनके बूब्स उभरकर बाहर निकले हुए थे और उनके बूब्स एकदम हॉट लग रहे थे. फिर मैंने अपना एक हाथ उनकी नाभि पर घुमाया और उन्होंने अपना एक हाथ मेरे लंड पर रख दिया तो मेरा लंड अब अंदर ही अंदर और भी कूदने लगा.

फिर वो मुझसे पूछने लगी कि क्यों ऐसा क्या है मुझमें? तो मैंने कहा कि आप नहीं जानती हो कि आप एक सुंदर परी हो जिसको देखकर हर कोई आपका दीवाना हो जाए. अब उन्होंने मेरी यह बात सुनते हुए मेरी शर्ट, पेंट दोनों को उतार दिया और मैंने उनके ब्लाउज और साड़ी को उतार दिया. वो अब सिर्फ़ ब्रा और पेंटी में थी. दोस्तों मेरी नजर उस बदन से हटने को बिल्कुल भी तैयार नहीं थी और फिर मैंने उनकी चूत पर हाथ फेरना शुरू किया ही था कि उनकी साँसे बढ़ने लगी और वो मेरे बालों को ज़ोर से जकड़ने लगी.

फिर उनके बूब्स को मैंने बाहर से ही दबाना शुरू किया तो वो और भी तड़प रही थी. फिर मैंने उनको अपने ऊपर बैठने को कहा और थोड़ा झुकने को कहा ताकि उसके बाद में उनकी ब्रा का हुक खोल सकूँ और उन्होंने ठीक वैसा ही किया मैंने तुरंत हुक को खोल दिया और उसके बाद मैंने उनकी बालों का क्लिप खोल दिया वो मेरे लिए एकदम सपनों की रानी लग थी और तब मैंने महसूस करके देखा कि उनकी पेंटी अब तक गीली हो गई थी और मेरा लंड भी बहुत बेताब था रीता आंटी की चूत में जाने के लिए फिर मैंने रीता आंटी की पेंटी को उतार दिया और चूत को देखने लगा.

फिर उन्होंने कुछ देर बाद मुझे धीरे से अपना लंड चूत में डालने को कहा और मैंने एकदम धीरे से अपना लंड चूत के अंदर डाला और वो धीरे धीरे आवाज करने लगी जिसकी वजह से मुझे और भी मज़ा आने लगा था उनकी आवाज़ से में जोश में आने लगा और अब वो धीरे धीरे मोन कर रही थी और थोड़ा सा रो भी रही थी. हर धक्के के साथ साथ उन्हे मज़ा भी बहुत आ रहा था.

तभी उन्होंने अचानक से मेरा लंड अपनी चूत से बाहर निकाल दिया और अपने मुहं में ले लिया और उसे वो लिक करने लगी. में और भी बेताब होने लगा और मैंने उनके मुहं में धीरे धीरे धक्के देने के साथ साथ उनके बूब्स को भी दबाए, वो बहुत ही मुलायम थे और उनके होंठ तो किसी टॉफी जैसे मीठे थे, उनके बाल भी बहुत सुंदर थे. दोस्तों कुछ देर बाद अचानक से मेरे धक्के तेज होने लगे और मेरे लंड ने अपना गरम सफेद पानी उनके मुहं में निकाल दिया, वो मेरा पूरा वीर्य गटक गई और हम दोनों ने सेक्स के बाद भी बहुत देर तक रोमांस किया. फिर हम साथ में भी नहाने लगे और उसके बाद हमने साथ में खाना भी खाया और मैंने उन्हे बाय कहा और एक मस्त हग और लिप किस किया.

फिर मैंने उनसे पूछा कि आप अपने पति को तो यह सब नहीं बताओगी ना? तो उन्होंने कहा कि पागल हो क्या? मुझे यह सब उन्हें बताकर मारना है? तो मैंने उनसे कहा कि आप बहुत अच्छी हो और आप कभी मुझे भूलना नहीं. फिर रीता आंटी ने कहा कि में तुम्हे ज़िंदगी भर नहीं भूलूंगी क्योंकि तुम बहुत मीठे हो. फिर उन्होंने मुझसे बाय कहा और फिर दोस्तों में वहाँ से निकल पड़ा.



"indian aunty sex stories""sax stori""kamukta com kahaniya""driver sex story""long hindi sex story""biwi ko chudwaya""hindi chudai story""forced sex story"kamukata"read sex story""hindi sexes story""nude story in hindi""chudai ki bhook""sex in hostel""group chudai story""new chudai ki story""train sex stories""hot hindi sex stories""www kamukata story com""sexy hindi story new""sex kahani""www sexi story"indainsex"gand chudai ki kahani""first time sex stories""bhen ki chodai""www.hindi sex story""boobs sucking stories""saxy hot story""new desi sex stories""sex storry""hot sex story""sex ki kahaniya""secx story""इन्सेस्ट स्टोरीज""kamvasna sex stories""hindi sexy storys""देसी कहानी""hindi kahaniyan""sex in story""sex story real hindi""इंडियन सेक्स स्टोरीज""chudai bhabhi"www.hindisex.com"sex story new in hindi""desi story""sex st""gay antarvasna""hot kamukta com""sex storiea""hindi xossip"www.antravasna.comhindisexstories"hot hindi kahani""indian gaysex stories""antarvasna sexstories""hindi sexy kahani""mom sex stories""xxx hindi sex stories""hindi sexi storise""sex stori hinde""indian story porn""hindi sex story hindi me""sex in story""indian sex storis""भाभी की चुदाई""office sex story""kajol ki nangi tasveer""hindi sex stories of bhai behan""bhabhi xossip""beti baap sex story"sexikhaniya"maa bete ki sex kahani""sex story real""hot sex stories""long hindi sex story""erotic stories hindi""सेक्सी कहानियाँ""hindi sax storis""sexy hindi katha"mastaram"raste me chudai""hot chudai story""mom chudai story""sex ki kahani""wife swapping sex stories""hindi hot kahani""kamukta com in hindi""kajol ki nangi tasveer""sex story kahani""sex story with photos""maa ki chudai kahani""hot sex stories in hindi"