बहन को चोदकर रखेल बनाया

(Bahan ko chodkar rakhel banaya)

हेलो दोस्तों.. मेरी फेमिली में हम 5 लोग है.. मैं, माँ, पापा और मेरी दो बहनें.. जिनका नाम पूजा और रेणु है. दोस्तों.. में आज आप सभी को मेरे द्वारा‍‌ जबरदस्ती पूजा के साथ बनाए गए गलत संबंधो के बारे बता रहा हूँ. मेरी बहन जब 20 साल की थी.. तब उसके बूब्स मोटे होना शुरू हो गये थे. जब वो बारहवीं में पढ़ती थी. पूजा बचपन से ही बहुत सुंदर है और जैसे जैसे पूजा बड़ी होती गई वैसे वैसे उसकी जवानी चड़ती गई और पूजा कली से फूल बन गयी. अब जो भी पूजा को देखता है वो पागल हो जाता.. पूजा का गोरा बदन, मोटे मोटे बूब्स, मस्ताने चूतड़ मुझे बहुत पागल बना रहे थे और फिर धीरे धीरे मेरा नज़रिया मेरी बहन के लिए बदलने लगा. मुझे उसमे अपनी बहन कभी नहीं दिखती थी.. पूजा मुझे केवल एक लड़की दिखती थी.. जिससे में अपनी हवस मिटाना चाहता था.

फिर पूजा धीरे धीरे बड़ी हुई.. दोस्तों पूजा एक बहुत ही अच्छे विचारो वाली लड़की थी और उसने शायद कभी नहीं सोचा होगा कि उसको प्यार करने वाला उसका भाई उसके साथ सेक्स करेगा. जब पूजा कॉलेज जाने के लिए तैयार होती थी.. तो में उसको हमेशा नंगा देखने की कोशिश करता रहता था. जब पूजा नहाने के लिए बाथरूम में जाती तो में बाथरूम की छोटी खिड़की से देखकर कई बार मुठ मारा करता था. दोस्तों में क्या कहूँ पूजा के जिस्म के बारे में.. उसका बदन बहुत ही चिकना, सुंदर, कामुक है. में हमेशा पूजा को चोदने के प्लान बनता रहता था.. लेकिन पूजा मेरे किसी भी प्लान में नहीं फंस पाई.. ना तो उसका कोई बॉयफ्रेंड था जिससे में उसको ब्लैकमेल कर सकूं और ना ही उसमें कोई ग़लत आदत थी.. जिससे में उसको फंसा सकूँ. वो बहुत ही सीधी साधी लड़की थी और में खुद को रोक नहीं पा रहा था.. उसकी जवानी ने मुझे हवस का पुजारी बना दिया था और अब उसकी चूत को चोदना मेरा सपना बन गया था.

फिर जब मेरे सभी प्लान फेल हो गये.. तब मैंने सोचा कि में पूजा को जबरदस्ती अपनी हवस का शिकार बनाऊंगा. कुछ दिन बाद मेरे मामा की शादी थी और यह मेरे लिए एक बहुत अच्छा मौका था और मेरे मामा की शादी में जाने के लिए माँ और पापा ने मुझ पर बहुत दवाब डाला.. लेकिन मैंने मना कर दिया और मेरे मना करने पर पूजा ने सोचा कि भैया नहीं जा रहे.. तो में अपनी पढ़ाई छोड़कर कैसे जाऊँ? तो पूजा ने पापा से कह दिया कि पापा आप, माँ और रेणु तीनों ही मामा की शादी में चले जाओ.. में और भैया यहीं पर रह जाते है और भैया के यहाँ पर रहते हुए में कॉलेज भी चली जाऊंगी और मेरी पढ़ाई भी खराब नहीं होगी. तभी पूजा की यह बात सुनकर में मन ही मन बहुत खुश हुआ. पापा, मम्मी पूजा की बात मान गये और मुझसे कहने लगे कि पूजा को घर पर बिल्कुल भी अकेला मत छोड़ना.. इसे कॉलेज ले जाने की और वापस लाने की तुम्हारी ज़िम्मेदारी है. तो मैंने अपना सर हाँ में हिलाते हुए पापा को जवाब दिया और तीन दिन बाद माँ और पापा शादी में चले गये. मैं और पूजा घर पर अकेले रह गये.

मैं अब कैसे भी पूजा को पाना चाहता था.. मुझे उसके जिस्म को देखकर अजीब अजीब ख्याल आने लगे और अगली सुबह जब पूजा नहाने जा रही थी.. तो मैंने बाथरूम की कुंडी तोड़ दी. जिससे बाथरूम अंदर से पूरी तरह से बंद नहीं हो पा रहा था. फिर उसने सोचा कि भैया तो अपने रूम में है और वो मुझे नहाने के लिए बोल कर नहाने चली गयी. मेरे रूम का दरवाजा बाथरूम से 80 डिग्री पॉइंट पर है.. जिससे मुझे बाथरूम में नहाने वाला बड़े आराम से साफ साफ दिख सकता था और यही जानकर मैंने बाथरूम की कुंडी तोड़ दी थी. तो पूजा मेरे गंदे इरादों से बेखबर होकर नहाने के लिए बैठी और फिर उसने अपना कुर्ता उतार दिया. दोस्तों उसने गुलाबी कलर की ब्रा पहन रखी थी और उसके मोटे मोटे बूब्स ब्रा में से बाहर आने को मचल रहे थे और उसके मोटे मोटे बूब्स देखते ही मेरा लंड खड़ा हो गया और पानी छोड़ने लगा.

फिर जैसे ही वो खड़ी हुई उसके बूब्स ब्रा में ही लटककर आम की तरह झूलने लगे.. मुझे उसके बूब्स का एकदम सही आकार दिखने लगा और फिर उसने अपनी सलवार खोलकर टावल लपेट लिया और खुद पर पानी डालने लगी. तो पूजा का भीगा बदन मुझे पागल किए जा रहा था और थोड़ी देर पानी डालने के बाद पूजा ने अपनी ब्रा उतार दी वाह दोस्तों कितने सुंदर थे पूजा के बूब्स एकदम गोरे, उस पर भूरे कलर की निप्पल और इतने टाईट कि दबाने वाले को पूरा मज़ा मिल जाए. फिर जब पूजा अपने बूब्स को साबुन लगाकर रगड़ रही थी.. तब में जानबूझ कर सामान का बहाना बनाते हुए रूम से बाहर निकल आया और उसके सामने आ गया वो आधी नंगी थी.. तो मैंने उसकी तरफ देखकर आँखे पलट ली और ऐसे व्यवहार करने लगा जैसे मुझे कुछ भी मालूम नहीं था. तभी पूजा बोली कि भैया में नहा रही हूँ आप अपने रूम में जाओ और फिर में नाटक करते हुए रूम में चला गया. लेकिन मेरी आँखो में पूजा की नंगी तस्वीर घूम रही थी और में अब तक तीन बार उसके बारे में सोच सोचकर मूठ मार चुका था. फिर उसके बाद पूजा नहाकर बाथरूम से बाहर निकली और उसके गीले बाल उसके जिस्म पर फैल रहे थे और उसके मोटे मोटे चूतड़ ऊपर नीचे हो रहे थे. यह देखकर मेरा हाल बहुत बुरा हुए जा रहा था. पूजा जीन्स और टॉप पहनकर तैयार हो गई और मुझसे बोली कि भैया मुझे कॉलेज छोड़कर आओ.

तब मैंने तैयार होकर बाईक बाहर निकाली और उसको कॉलेज छोड़कर आया. मेरी आंखो में पूरे दिन पूजा की नंगी तस्वीर घूमती रही.. शाम को पूजा का कॉलेज खत्म हुआ और में उसको वापस लेने गया. फिर उसको कॉलेज से घर लाने के बाद मैंने उसको बोला कि पूजा तुम खाना बनाओ में थोड़ी देर में आता हूँ और इतना कहकर में वहाँ से निकल गया और एक वाईन शॉप पर जाकर मैंने एक विस्की ली और उसे छुपाकर घर में रख दिया. फिर मैंने पूजा को खाने से जल्दी फ्री होने को कहा.. उसके खाना बनाने के बाद वो और में साथ खाना खाने लगे. फिर मैंने पूजा से सॉरी बोला.. तो वो बोली कि भैया किस बात की सॉरी? तो मैंने कहा कि आज सुबह मुझे ध्यान नहीं रहा और तुम नहा रही थी और में एकदम से तुम्हारे सामने आ गया. तो पूजा बोली कि कोई बात नहीं भैया.. आपको पता नहीं था इसलिए तो आप आए.. अगर आपको पता होता तो आप नहीं आते. फिर इसके बाद खाना खाकर पूजा मुझसे बोली कि भैया में सोने जा रही हूँ और उसके जाने के बाद मैंने विस्की की बोतल निकाली और आधी से ज्यादा विस्की पी ली.. मुझे विस्की पीते पीते रात के 11.30 बज गये और उसके बाद में पूरे नशे में हो गया.

फिर में सारे घर की लाईट बंद करके पूजा के रूम की तरफ गया और उसका दरवाजा खटखटाया और दो, तीन बार दरवाजा खटखटाने के बाद पूजा ने दरवाजा खोला.. वो बहुत गहरी नींद में दरवाजा पकड़ कर खड़ी थी. उसकी आंखे अच्छे से खुल भी नहीं रही थी. वो बोली कि भैया क्या हुआ? क्या आपको कुछ चाहिए? इस पर मैंने बोला कि मुझे तू चाहिए.. तो पूजा बोली कि भैया में कुछ समझी नहीं और आपकी आंखे भी चढ़ रही है.. क्या हुआ आपको? वो बोलती रही और में उसके बेड पर जाकर बैठ गया. पूजा भी मेरे पास आकर बैठ गयी. फिर जल्दी से उठकर मैंने रूम का दरवाजा बंद कर दिया तो पूजा बहुत घबरा गई. वो बोली कि भैया आपको क्या हुआ है? आपने दरवाजा क्यों बंद किया? तो मैंने उसको बोला कि पूजा तू मुझे बहुत अच्छी लगती है और में उसके गाल को अपने हाथ से सहलाने लगा. तो उसने मेरे हाथों को छिटक कर दूर कर दिया. मैंने उससे कहा कि आज सुबह में तेरी जवानी देखकर पागल हो गया हूँ और अब तू मुझे खुश कर दे पूजा. तभी पूजा बहुत डर गयी उसके माथे से पसीना बहने लगा वो मेरी इन बातों से बहुत घबरा गई थी.

फिर में धीरे धीरे उसकी तरफ बढ़ने लगा.. लेकिन वो पीछे जाने लगी और रूम के एक कोने में जाने के बाद मैंने उसके दोनों हाथ पकड़ लिए. तभी पूजा रोने लगी और मुझसे बोली कि भैया मुझे छोड़ दो प्लीज़ में आपकी बहन हूँ. इस रिश्ते को कलंकित मत करो. तभी मैंने उसके गाल पर एक ज़ोर से थप्पड़ मारा और उसको गोद में उठाकर बेड पर पटक दिया. वो मुझसे बचने की हर नाकाम कोशिश करने लगी और फिर इसी जबरदस्ती में मैंने उसका सूट पकड़कर फाड़ दिया और अब उसका बदन चमकने लगा मुझे उसकी पतली कमर साफ साफ दिखने लगी. उसके बूब्स ब्रा में बहुत सुंदर लग रहे थे. फिर मैंने जबरदस्ती उसके सारे कपड़े फाड़ दिए.. वो बहुत ज़ोर ज़ोर से रोने, चीखने और चिल्लाने लगी. तो मैंने उसको बोला कि प्यार से चुदवाएगी या जबरदस्ती से.. दोनों तरीके से ही तुझे आज मेरी रंडी बनना होगा और इतना कहकर में उसके ऊपर लेट गया और उसके दोनों हाथ कसकर पकड़ लिए और अब वो मुझसे छूटने के लिए तड़पने लगी वो बिन पानी की मछली की तरह छटपटाने लगी.

वाह क्या जिस्म था पूजा का और जैसे ही में उसके बूब्स के ऊपर आया तो मेरा लंड पूरी तरह से तैयार हो गया और में पूजा को चूमने और चाटने लगा. मैंने पूजा के सारे बचे हुए कपड़े भी उतार दिए.. पूजा रोए जा रही थी और उसका नंगा बदन देखकर में पूरी तरह से मदहोश हो गया. उसकी चूत पर काली काली झांटे क्या लग रही थी? उसके चूतड़ क्या मस्त लग रहे थे. फिर मैंने भी उसके सामने अपने कपड़े खोल दिए. अपने लंड को हाथ में लेकर सहलाने लगा और पूजा मुझे देखकर बहुत सहम गयी. फिर मुझे पूरी तरह नशे में देखकर वो बहुत डर गयी और अब वो समझ चुकी थी कि उसके साथ क्या होने वाला है? में अपने कपड़े उतारकर पूजा के ऊपर पर गिर पड़ा और मैंने अपना मुहं सीधा पूजा की चूत पर रख दिया उसके दोनों हाथ पकड़ कर उसकी चूत को अपनी जीभ से सहलाने, चाटने लगा. पूजा की चूत की खुश्बू मुझे पागल कर रही थी और अब मैंने अपनी जीभ पूजा की चूत में डाल दी और उसकी चूत को अंदर तक जीभ घुसाकर चूसने, चाटने लगा. मुझे बहुत सेक्स का बुखार चढ़ रहा था. तो पूजा दर्द से चिल्ला रही थी और में अपने दोनों हाथों से पूजा के बूब्स दबा रहा था.

यह कहानी आप autofichi.ru में पढ़ रहें हैं।

फिर चूत को चूसते हुए में उसके बूब्स पर आया और उसके बूब्स को चूसने लगा और मैंने उसको एक थप्पड़ और मारा और उल्टा लेटा दिया और अपनी जीभ से उसकी गांड चाटने लगा और उसकी चूत में अपनी दो उंगलियाँ डालकर धीरे धीरे अंदर बाहर करने लगा.. लेकिन पूजा दर्द से बेहाल हो गयी और अब वो चुदक्कड रंडी की तरह चुपचाप बेड पर पड़ी यह सब करवा रही थी और धीरे धीरे सिसकियाँ लेने लगी. उसके बाद मैंने उसको सीधा किया और उसके बालों को पकड़ कर अपना लंड हिलाते हुए उसके मुहं में डाल दिया और लंड को ज़ोर ज़ोर से अंदर बाहर करने लगा और लंड के मुहं में जाते ही उसकी आँखों से आंसू बहने लगे.. उसकी सांसे ऊपर नीचे होने लगी.. लेकिन अब में पूरी तरह पागल हो चुका था और मुझे उसकी इस हालत पर बिल्कुल भी तरस नहीं आया. तो मैंने उसके दोनों पैरों को पूरी तरह से खोल दिया और अब मुझे उसकी लाल लाल कोमल सी चूत साफ नज़र आने लगी. उसकी चूत बहुत छोटी और कामुक थी. तो मैंने अपना लंड उसके मुहं से बाहर निकालकर सीधा उसकी चूत पर रखा और धीरे से धक्का देकर चूत में डाल दिया.

वो दर्द से चिल्ला उठी और ज़ोर ज़ोर से रोने लगी और कहने लगी कि भैया प्लीज छोड़ दो मुझे.. आआहह में मर जाउंगी भैया छोड़ दो मुझे मेरी चूत फट जाएगी प्लीज भैया. तो मैंने उसको कहा की तुम चिंता मत करो में तुम्हे कुछ नहीं होने दूंगा तुम्हारी पहली चुदाई की वजह से तुम्हे थोड़ा दर्द होगा.. लेकिन थोड़ी देर बाद कम हो जाएगा और फिर में उसको अपनी पूरी ताक़त से चोदने लगा और ज़ोर ज़ोर से झटके देने लगा. तभी उसकी चूत से खून निकलना शुरू हो गया और में उसको और ज़ोर से चोदने लगा मैंने पूजा को कहा कि जानेमन मेरी रंडी कुतिया तेरी चूत आज मेरे लंड से फट गई है और तेरी सील टूट चुकी है. अब तू फ़िक्र मत कर बस चुपचाप चुदवा.. और में उसको और तेज चोदने लगा.

फिर उसके मुहं से आवाज़ आ रही थी आआअहह नहीं भैया मत करो.. आई माँ में मर जाउंगी.. बहार निकालो प्लीज में आपकी हर बात मानूंगी भैया.. इसे बाहर निकालो में दर्द से तडप रही हूँ. तो मुझे बहुत जोश आ गया और मैंने पूजा की चूत में से लंड को बाहर निकालकर उसको उल्टा पटक दिया और उसकी गांड को अपने एक हाथ से फैलाकर गांड में अपना लंड डाल दिया.. पूजा फिर से बहुत ज़ोर से चिल्लाई भैया प्लीज मुझे छोड़ दो और अब मैंने अपनी स्पीड और बढ़ा दी और उसकी कमर को अपने दोनों हाथों से पकड़ कर ज़ोर से धक्के देने लगा.. लेकिन इस चुदाई से पूजा पूरी तरह बेहाल हो चुकी थी उसकी गांड में जैसे ही लंड अंदर बाहर होता वो और ज़ोर से सिसकियाँ लेने लगती और कहती भैया प्लीज धीरे करो में मर गई. अब मेरा पानी निकलने वाला था..

मैंने पूजा के बाल पकड़ कर अपना लंड उसके मुहं में दे दिया और ज़ोर ज़ोर से उसके मुहं में धक्के देने लगा और मैंने अपना सारा पानी उसके मुहं में निकाल दिया. करीब 10 मिनट तक अपने लंड को पूजा के मुहं में रखा. उसके बाद में उससे थोड़ा दूर हो गया और पूजा बेड पर दर्द की वजह से बहुत ज़ोर ज़ोर से रो रही थी और एक चुदी हुई रंडी की तरह पड़ी थी. में थोड़ी देर बेड पर पड़ा रहा और फिर उठा और बाथरूम जाकर लंड को साफ किया और नहाने के बाद बेड पर आकर सो गया.

फिर अगली सुबह जब मैंने उठकर देखा तो पूजा से ठीक तरह से चला भी नहीं जा रहा था. उसको मैंने दर्द की एक गोली दी.. तो वो मुझसे बात नहीं कर रही थी. तो मैंने उससे पूछा कि पूजा क्या तुम यह सब किसी को बताओगी? तो इस पर वो बोली कि भैया कुछ भी कहो मजा तो मुझे भी आया था.. में तो नाटक कर रही थी. अगर में ऐसा नहीं करती तो आप मुझे रंडी की तरह नहीं चोदते. तो में बिल्कुल चुप रहा और मैंने पूजा का दिल जीत लिया और दोस्तों आज पूजा मेरी बहन कम मेरी रखैल ज्यादा है. अब वो मुझसे बहुत खुश होकर चुदाई करवाती है और में उसकी बहुत चुदाई करता हूँ. अब वो अपनी इस चुदाई से बहुत खुश है और मेरे लंड को पकड़कर कभी अपनी गांड तो कभी अपनी चूत चुदवाती है और जब तक उसकी शादी नहीं होगी.. तब तक वो मुझसे चुदवाती रहेगी ..



"cudai ki kahani""indian bhabhi sex stories""sexi storis in hindi""hindi sex kahaniya""indian lesbian sex stories""balatkar sexy story""deepika padukone sex stories""hindi sexy story hindi sexy story""chachi sex stories""kamukta story in hindi""indian sex syories""sexy story kahani""hindi sexy strory""hot sex stories""hindi latest sexy story""sex storie""hindi group sex stories""biwi aur sali ki chudai""behan ki chudai""sax khani hindi""hot sex hindi stories"newsexstory"train me chudai ki kahani""hinde sex sotry""indian desi sex stories"chudaistory"हॉट हिंदी कहानी""maa beti ki chudai""chudai ki kahani new""sexey story""hindi sexi istori""indian bhabhi ki chudai kahani""sexi sotri""maa ki chudai ki kahaniya""hindi sexy stoey""sexy story hind""group sex story in hindi""hot sex bhabhi""train sex story"desikahaniya"mom chudai story""hindi aex story""hindi sexy story""sex story in hindi real""sexy storis in hindi""chut ki kahani""hindi sax satori""new sex kahani com""antar vasana""चुदाई की कहानियां""meri biwi ki chudai""real life sex stories in hindi""sex story with sali""www kamukata story com""pooja ki chudai ki kahani""hiñdi sex story""sex storry""sexi stories""desi sexy hindi story""sexi khaniy""sexy chudai""सेक्सि कहानी"sexstories"bus sex story""pron story in hindi""new sex story in hindi""hot sex story com""randi chudai ki kahani""baap aur beti ki sex kahani""hindi sexy story in""girl sex story in hindi""uncle sex stories""hindi story hot""kamwali sex"sexstori"hot sex stories""saxy hinde store""hindi sexs stori""hot n sexy story in hindi""hot sex stories in hindi"desikahaniya"hindi group sex stories""www kamvasna com""indian sex sto""desi sex story in hindi""bahan kichudai""chodan. com""sex atories""pooja ki chudai ki kahani"